गोवा के मुख्यमंत्री ने कहा - घर में बार नहीं लाइब्रेरी बनाइये

मैं कम पढ़ता हूं लेकिन मेरी पत्नी बहुत पढ़ती है. वो एक टीचर है - प्रमोद सावंत
 | 
GG
रीड इंडिया सेलिब्रेशन का लक्ष्य साल 2015 तक 1 बिलियन(100 करोड़) लोगों को रीडिंग मूवमेंट(Reading Movement) से जोड़ना है. इस कैम्पेन को एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स की तरफ से अच्छा रेस्पोंस मिला है. साल 2014 में इसकी शुरुआत हुई थी. पिछले साल इस मुहिम से 10 हजार स्कूलों से करीब तीन लाख रजिस्ट्रेशन हुए थे.

पणजी - इन दिनों स्मृति ईरानी की बेटी द्वारा कथित बार चलाये जाने का मुद्दा ख़ूब सुर्खियां बंटोर रहा है. अब गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत(CM Parmod Sawant) ने रीड इंडिया सेलिब्रेशन(India Read Celebration), 2022 इवेंट के लॉन्च के दौरान कहा कि लोगों को अपने घर में बार की जगह लाइब्रेरी बनानी चाहिए. उन्होंने कहा कि लाइब्रेरी से अच्छा असर पड़ता है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रमोद सावंत ने कहा, "हर घर में एक छोटी लाइब्रेरी होनी चाहिए. बहुत से लोग बहुत ही गर्व के साथ अपने घर में बने बार और वहां मौजूद तरह-तरह की शराब के बारे में बताते हैं. लेकिन उनके घर में लाइब्रेरी नहीं होती. मेरे घर में एक छोटी सी लाइब्रेरी है और मेरी पत्नी उसे मेनटेन(Maintain) करती है. मैं कम पढ़ता हूं लेकिन मेरी पत्नी बहुत पढ़ती है. वो एक टीचर है."

null



मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने आगे कहा कि घर में बार की जगह लाइब्रेरी मेंटेन की जानी चाहिए. उन्होंने कहा कि इससे बच्चों के ऊपर अच्छा इंपेक्ट पड़ता है. रीड इंडिया सेलिब्रेशन का लक्ष्य साल 2015 तक 1 बिलियन(100 करोड़) लोगों को रीडिंग मूवमेंट(Reading Movement) से जोड़ना है. बताया जा रहा है कि इस कैम्पेन को एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स(Educational Institutes) की तरफ से अच्छा रेस्पोंस मिला है. साल 2014 में इसकी शुरुआत हुई थी. पिछले साल इस मुहिम से 10 हजार स्कूलों से करीब तीन लाख रजिस्ट्रेशन हुए थे. अमेरिका(USA) सयुंक्त अरब अमीरात(UAE), कतर(Qatar) और ओमान(Oman) जैसे देशों से भी इस मुहिम में बच्चे जुड़े हैं. वहीं साल 2020 में कनाडा और न्यूजीलैंड(New Zealand) के बच्चे भी इस कैम्पेन(Campaign) में शामिल हुए थे.

इस प्रोग्राम में शामिल होने के बाद 25 से अधिक सब्जेक्ट्स और टॉपिक्स(Subjects and Topics) के बारे में रीडिंग मैटेरियल(Reading material Access) को एक्सेस किया जा सकता है. कैम्पेन में भाग लेने वाले पढ़ने के बाद एंट्री सबमिशन कर सकते हैं. इस साल ऐसा करने की लास्ट डेट 15 अगस्त है. एंट्री सबमिशन का एनालिसिस(Analysis) इस साल सितंबर और अक्टूबर में होगा. दूसरे राउंड की स्क्रीनिंग नवंबर में होगी जबकि फाइनल दिसंबर में होगा. 

Latest News

Featured

Around The Web