Chinese Manjha: आठ लोग गिरफ़्तार, 12 हजार मांझे के रोल बरामद, कोड वर्ड में करते डील

मांझे के चपेट में आने  से सुमित की मौत के बाद चाइनीज मांझे के खिलाफ पुलिस  ने की कार्रवाई 
 | 
आठ लोग गिरफ़्तार
दिल्ली के उत्तर पश्चिम जिला में गोदाम मालिक कोड वर्ड के जरिए दुकानदारों को चाइनीज मांझा बेचता था। जिले की स्पेशल स्टाफ ने महेंद्र पार्क इलाके में स्थित एक गोदाम का खुलासा किया है। पुलिस ने गोदाम पर छापा मारकर यहां से 205 कार्टून माल बरामद किया है। जिसमें 11760 चाइनीज मांझे के रोल थे। पुलिस ने गोदाम मालिक को गिरफ्तार कर लिया है। 

नई दिल्ली- पतंगबाजी लोकप्रिय खेल हैं और यह हर साल स्वतंत्रता दिवस समारोह से कुछ सप्ताह पहले से शुरू हो जाता है। पतंग उड़ाने वाले लोग चाइनीज मांझा का इस्तेमाल करते हैं जो लोगों के अलावा पक्षियों के लिए घातक होता है। कभी-कभी चाइनीज मांझे की वजह से बिजली आपूर्ति भी बाधित भी होती है।दिल्ली में विकासपुरी इलाके में प्रतिबंध के बावजूद पतंग उड़ाने वालों के चीनी मांझे का इस्तेमाल करने से एक युवक की जान पर बन आई। पालम के रहने वाले युवक का मांझे से गला कट गया।

आठ लोग गिरफ़्तार

दिल्ली के उत्तर पश्चिम जिला में गोदाम मालिक कोड वर्ड के जरिए दुकानदारों को चाइनीज मांझा बेचता था। जिले की स्पेशल स्टाफ ने महेंद्र पार्क इलाके में स्थित एक गोदाम का खुलासा किया है। पुलिस ने गोदाम पर छापा मारकर यहां से 205 कार्टून माल बरामद किया है। जिसमें 11760 चाइनीज मांझे के रोल थे। पुलिस ने गोदाम मालिक को गिरफ्तार कर लिया है। शुरुआती जांच से पता चला है कि गोदाम मालिक नोएडा के एक सप्लायर से 400 कार्टून का खेप लेकर आया था। जिसे सप्लायर ने सूरत से खरीदा था। पुलिस गोदाम मालिक से पूछताछ कर मामले की छानबीन में जुटी है।

वहीं, मौर्या एन्क्लेव इलाके में मांझे के चपेट में आकर सुमित की मौत के बाद से स्पेशल स्टाफ निरीक्षक अमित कुमार के नेतृत्व में टीम लगातार मांझे बेचने वाले दुकानदारों पर दबिश दे रहे थे। पुलिस ने तीन दुकानदारों को गिरफ्तार किया। इसी छानबीन के दौरान सिपाही अंकुश को महेंद्र पार्क के रामगढ़ इलाके में चाइनीज मांझे के गोदाम होने का पता चला। लेकिन पुलिस को पता चला कि गोदाम मालिक कोड वर्ड बताने के बाद ही चाइनीज मांझा बेचता है।

xxxxx

बाहरी जिला पुलिस ने चीनी मांझा बेचने वाले 11 दुकानदारों को गिरफ्तार किया है। उनके कब्जे से मांझे के 59 रोल बरामद हुए हैं। पीतमपुरा इलाके में चीनी मांझे के चपेट में आकर युवक की मौत के बाद बाहरी जिले की पुलिस ने चीनी मांझा बेचने वालों पर नकेल कसने का निर्देश दिया है। उसके बाद बाहरी जिले के सभी पुलिस थानों ने चीनी मांझा, कांच लगा नायलॉन और सिंथेटिक मांझा बेचने वाले व्यक्तियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की। पुलिस ने बृहस्पतिवार को ऐसे दुकानदारों के खिलाफ विशेष अभियान चलाया। पुलिस ने ऐसे 11 दुकानदारों की पहचान कर उनके खिलाफ कार्रवाई की।

आठ लोग गिरफ़्तार


पुलिस ने गिरफ्तार दुकानदारों और स्थानीय स्तर पर कोड वर्ड का पता लगाया। उसके बाद सिपाही उत्तम नकली ग्राहक बनकर गोदाम मालिक से संपर्क किया। सौदा तय होने के बाद पुलिस टीम मौके पर पहुंचकर गोदाम मालिक जहांगीरपुरी निवासी अमरजीत सिंह को गिरफ्तार कर लिया। उसके बाद पुलिस ने गोदाम से 205 कार्टून चाइनीज मांझे का रोल बरामद कर लिया। कार्टून में कुल 11760 रोल थे। पुलिस से बचने के लिए गोदाम मालिक कार्टून को प्लास्टिक के बोरे में बंद करके रखा था।


गोदाम मालिक से पूछताछ और छानबीन से पुलिस को पता चला कि कोड वर्ड से सौदा तय होने के बाद ही मालिक गोदाम खोलता था और जल्द से जल्द कार्टून को गाड़ी पर लादकर वहां से फरार हो जाता था। पूरे दिन-रात गोदाम बंद रहता था। गोदाम मालिक ने बताया कि एक महीने पहले उसने नोएडा के एक सप्लायर से चाइनीज मांझे के 400 कार्टून खरीदे थे। चाइनीज मांझे का खेप गुजरात के सूरत से आता है। सप्लायर सौदा तय होने के बाद बीच रास्ते में ही खेप उतरवा देता था। उसके बाद गोदाम मालिक खेप को लेकर अपने गोदाम में ले जाता था।

Latest News

Featured

Around The Web