रांची में जेवर व्यापारी की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या, लूट के इरादे से घूसे थे बदमाश

रांची में लूट के प्रयास में जेवर व्यवसायी की गोली मारकर हत्या, CCTV में कैद हुई अपराधियों की तस्वीर
 | 
क्राइम
रांची डेली मार्केट थाना क्षेत्र के ओसीसी कंपाउंड स्थित अरविंद ज्वेलर्स दुकान में घुसकर जेवर व्यवसायी राजेश पॉल की गोली मार कर हत्या कर दी गयी। वारदात मंगलवार दिन के करीब 2.30 बजे की है। वहीं पुलिस मामले की गंभीरता को देखते हुए मामले की जांच में जुट गई है वहीं अपराधियों को पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है ।

रांची - देश में लगातार अपराध के मामलों में बढ़ोतरी हो रहे हैं। अपराधी बेखौफ होकर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। अपराधियों को न पुलिस का डर है और न ही प्रशासन का। हाल ही में ताजा मामला रांची से आया है। जहां एक डेली मार्केट थाना क्षेत्र के ओसीसी कंपाउंड स्थित अरविंद ज्वेलर्स दुकान में घुसकर जेवर व्यवसायी को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। जेवर व्यवसायी का नाम राजेश पॉल था। बता दें कि राजेश पॉल रांची जिला सोना-चांदी व्यवसायी समिति के उपाध्यक्ष भी थे और घटनास्थल के पास स्थित बांग्ला स्कूल के समीप रहते थे। घटना मंगलवार दोपहर करीब 2.30 बजे की है। बाइक सवार 6 बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया है। घटना को अंजाम देने के बाद बदमाश वहां भाग निकले। हालांकि वारदात की यह पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है। 

बता दें कि वारदात को अंजाम देने के लिए पांच बदमाश दुकान में घुसे थे। जबकि एक अपराधी बाहर निगरानी कर रहा था। वारदात के दौरान दुकान में मौजूद राजेश पॉल के मामा घनश्याम कुमार अपराधियों से भिड़ गए तो बदमाशों ने घनश्याम के  उन्हें सिर पर पिस्टल के बट से वार कर घायल कर दिया। वहीं आसपास के लोग राजेश पॉल और घनश्याम को सेटेविंटा अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया। डॉक्टर्स ने प्राथमिक जांच के बाद रोजश पॉल मृत घोषित कर दिया। वहीं दूसरी ओर घनश्याम कुमार का इलाज किया गया।

मामले की सूचना मिलने के बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और मामले की छानबीन में जुट गई। पुलिस ने घटनास्थल से अपराधियों द्वारा छोड़ी गयी पिस्टल और हेलमेट भी बरामद किया है। वहीं वारदात के जानकारी लेने के लिए पुलिस राजेश के मामा घनश्याम से मिलने अस्पताल पहुंची और वारदात के बारे में जानकारी जुटाई। घनश्याम ने पुलिस को वारदात के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि दुकान में पांच अपराधी मुंह को गमछा से ढंककर घुसे थे। सभी के हाथ में पिस्टल थी। पांच अपराधियों में से एक ने पहले राजेश पॉल पर पिस्टल से हमला किया था। इस पर राजेश ने उसकी पिस्टल पकड़ ली। उसके बाद अपराधी ने उनकी गोली मारकर हत्या कर दी। घटना के बाद वह भी अपराधी से उलझ गए। इसके बाद अपराधियों ने उन पर भी हमला कर घायल कर दिया।  

घनश्याम ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के दौरान एक अपराधी का गमछा मुंह से निकल गया था। जिसे देखकर वह दोबारा पहचान सकते हैं। घनश्याम ने पुलिस को बताया कि अपराधी डकैती करने के लिए दुकान में घुसे थे लेकिन विरोध होने के कारण उन्होंने इस वारदात को अंजाम दिया है। वहीं पुलिस मामले की गंभीरता को देखते हुए मामले की जांच में जुट गई है वहीं अपराधियों को पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है ।

Latest News

Featured

Around The Web