Paytm के जरिए पुलिस वाले ने ली कबाड़ी से रिश्वत, कहा- अफसरों को भी देने पड़ते हैं पैसे

आरोपी कॉन्स्टेबल ने कहा, 'उच्च अधिकारियों को भी पैसे देने पड़ते हैं'
 | 
PAYTM BRIBE
इससे पहले भी कॉन्स्टेबल के खिलाफ मौखिक शिकायतें की जा चुकी हैं। लेकिन कोई एक्शन नही लिया गया। अब लिखित शिकायत के आधार पर कार्रवाई की गई है।

छत्तीगढ : भ्रष्टाचार की जड़ें हमारे देश में हर सरकारी दफ़्तरों में किस क़दर फ़ैली हुई हैं ये बताने की ज़रूरत नही है लेकिन जब रिश्वत भी डिजिटल तरीक़े से ली जाए तो सभी का आश्चर्यचकित होना लाज़िमी है। एक ऐसी ही घटना छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में देखने को मिली है जहां एक पुलिस कांस्टेबल ने कबाड़ वाले से ऑनलाइन रिश्वत ली। पीड़ित के मुताबिक आरोपी कॉन्स्टेबल ने पीड़ित से ये कहते हुए रिश्वत ली कि वरिष्ठ अधिकारियों को भी रिश्वत का पैसा देना पड़ता है। 

पीड़ित कबाड़ वाले ने इसकी शिकायत पुलिस में की तो एसएसपी डॉ. अभिषेक पल्लव ने आरोपी कॉन्स्टेबल को थाने से हटाकर लाइन हाज़िर कर दिया है और उसके खिलाफ विभागीय जांच भी बिठा दी गई है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक कॉन्स्टेबल किशोर सोनी पद्मनाभपुर चौकी में तैनात था। पीड़ित द्वारा दायर शिकायत के मुताबिक कॉन्स्टेबल ने चोरी के सेंटरिंग प्लेट खरीदने वाले आरोपी बिट्टू उर्फ़ मोहम्मद आमिर गहलोत से 5 हज़ार रुपये रिश्वत के तौर पर लिए थे। आरोपी कॉन्स्टेबल ने नकद की बजाय पे-टीएम से रिश्वत ली थी। इसकी शिकायत मिलने पर आरोपी कॉन्स्टेबल को दुर्ग एसएसपी ने कार्रवाई की है। आरोपी को तुरंत प्रभाव से लाइन हाज़िर कर दिया गया है।

मिली जानकारी के मुताबिक आरोपी कॉन्स्टेबल किशोर सोनी ने उच्च अधिकारियों के नाम पर भी कबाड़ वाले से रिश्वत ली थी। उसने 5 हज़ार में से 3 हज़ार 5 सौ रुपये उच्च अधिकारियों को देने की बात कही थी। शिकायत के बाद एसएसपी ने विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए हैं। सूत्रों द्वारा बताया जा रहा है कि इससे पहले भी कॉन्स्टेबल के खिलाफ मौखिक शिकायतें की जा चुकी हैं। लेकिन कोई एक्शन नही लिया गया। अब लिखित शिकायत के आधार पर कार्रवाई की गई है।

Latest News

Featured

Around The Web