दिल्ली कटरा एक्सप्रेसवे की जद मे आए मकान को बचाने की अनोखी तरकीब जानें!

1.5 करोड़ से बनाए आशियाने को बचाने के लिए किसान ने की अनोखी तरकीब
 | 
संगरूर
एक्सप्रेसवे के रूट के लिए सरकार जगह खाली करा रही है, ऐसे में इस मकान को भी हटना था। सरकार की ओर से इसके लिए मकान मालिक को मुआवजे की पेशकश की गई, हालांकि मकान मालिक इसके लिए तैयार नहीं हुआ। उसने ठाना कि वो अपने मकान को नहीं टूटने देगा, लिहाजा उसने पूरे मकान को ही उखाड़कर दूसरी जगह ले जाने की तैयारी कर ली। कुछ खास कारीगरों ने इस काम को अंजाम देना शुरू किया। अब तक वे कारीगर मकान को 250 फीट दूर ले गए हैं।

संगरूर. पंजाब के संगरूर में एक किसान ने दो मंजिला मकान बनाया, जिसमें करीब डेढ़ करोड़ रुपए खर्च हुए। अब किसान को इस मकान को मौजूदा स्थान से 500 फीट की दूरी पर ले जाना है। एक्सप्रेस-वे बनने के कारण किसान को ऐसा करना पड़ा। आपको बता दें कि पंजाब में संगरूर के दो साल में यह भव्य घर बनकर तैयार हुआ था।

दरअसल, दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेस-वे घर की जगह से ही गुजरने के कारण किसान को मकान हटाना पड़ रहा है। ऐसे में उन्होंने एक अनोखी तरकीब निकाली और घर को नींव वाली जगह से 500 फीट दूर शिफ्ट करने का फैसला किया। वहीं एक्सप्रेस-वे के अधिकारियों का कहना है कि संगरूर के रोशनवाला गांव में एक खेत में बना सुखविंदर सिंह सुखी का घर दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेस-वे के रास्ते में आ रहा था.

मकान

बता दें कि इस एक्सप्रेस-वे के बनने से यात्रियों के यात्रा समय में कमी आएगी। इसे केंद्र की भारतमाला परियोजना के तहत बनाया जा रहा है। एक बार पूरा होने के बाद, एक्सप्रेसवे हरियाणा, पंजाब और जम्मू-कश्मीर से होकर गुजरेगा और लोगों को यात्रा में आसानी होगी।

पंजाब सरकार द्वारा किसान सुखविंदर सिंह सुखी को मकान हटाने के लिए मुआवजे की पेशकश की गई थी, लेकिन पूरे घर को गिराने के बजाय, उन्होंने इसे स्थानांतरित करने का फैसला किया। अब तक सुखी कुछ खास कार्यकर्ताओं की मदद से घर को 250 फीट की दूरी तक ले जा चुकी हैं। इसे कुल 500 फीट तक ले जाने का काम चल रहा है।हाईवे

इसका एक वीडियो सामने आया है, जिसमें कुछ गियर्स दिख रहे हैं, जो पहियों की तरह हैं। इसकी मदद से घर को जमीन से दूर खींचने का काम किया जा रहा है. किसान सुखी ने कहा, 'इस घर को बनाने में मुझे दो साल 1.5 करोड़ रुपये लगे। यह मेरा ड्रीम प्रोजेक्ट है, मैं दूसरा घर नहीं बनाना चाहता था।"

एक्सप्रेसवे के बारे में, पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने पिछले महीने कहा था, “दिल्ली-अमृतसर-कटरा राष्ट्रीय राजमार्ग एक महत्वाकांक्षी परियोजना है, एक बार पूरा होने के बाद, पंजाब के रास्ते दिल्ली से जम्मू-कश्मीर जाने वाले यात्रियों को समय, पैसा और पैसा खर्च करना होगा। और ऊर्जा की बचत होगी। ” 

Latest News

Featured

Around The Web