‘मित्रों को दौलतवीर, युवाओं को अग्निवीर बना रहे पीएम’, केंद्र पर फिर बरसे राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्विटर पर भड़ास निकालते हुए कहा कि पीएम मोदी अपने मित्रों को दौलतवीर लेकिन युवाओं को अग्निवीर बना रहे.
 | 
राहुल गांधी
राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहादेश के प्रधानमंत्री अपने मित्रों को तो देश के एयरपोर्ट देकर दौलतवीर बना रहे हैं लेकिन युवाओं को ठेके पर रखकर अग्निवीर बनाना चाहते हैं. बता दें कि आज देश भर में कांग्रेस पार्टी अग्निपथके ख़िलाफ़ सत्याग्रह कर रही है.

नई दिल्ली - अग्निपथ स्कीम (Agnipath Scheme) को लेकर कांग्रेस (Congress) देशभर में सत्याग्रह (Satyagraha) कर विरोध जता रही है. इसी कड़ी में कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) पर जोरदार हमला किया है. उन्होंने कहा है कि देश के प्रधानमंत्री अपने मित्रों को दौलतवीर और युवाओं को अग्निवीर बनाना चाहते हैं.


राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा, प्रधानमंत्री अपने मित्रोंको 50 साल के लिए देश के एयरपोर्ट देकर 'दौलतवीर' और युवाओं को सिर्फ़ 4 साल के ठेके पर 'अग्निवीर' बना रहे हैं. आज देश भर में कांग्रेस पार्टी अग्निपथके ख़िलाफ़ सत्याग्रह कर रही है और जब तक युवाओं को इंसाफ़ नहीं मिलता, ये सत्याग्रह नहीं रुकेगा.

बता दें कि सेना में भर्ती की नई योजना अग्निपथ का देश के युवा विरोध कर रहे हैं। युवाओं से शुरू हुआ विरोध अब राजनीतिक रूप ले चुका है. अब तक कई राजनीतिक दलों ने इस योजना का विरोध किया है. कांग्रेस ने इस योजना के विरोध देशभर में सत्याग्रह का आयोजन किया. कांग्रेस लगातार अग्निपथ योजना को लेकर सरकार पर हमलावर है.

कांग्रेस अग्निपथ योजना के खिलाफ देश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में 'सत्याग्रह' कर रही है और अग्निपथ योजना को लागू करने के तुगलकी फरमान को वापस लेने की मांग कर रही है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी पहले भी अग्निपथ योजना को लेकर मोदी सरकार को घेर चुके हैं। वहीं अब एक बार फिर राहुल ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है.

राहुल गांधी इससे पहले भी अग्निवीर योजना को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधा था। राहुल गांधी परमवीर चक्र विजेता कैप्टन बाना सिंह के ट्वीट के जरिये अग्निवीर योजना को लेकर सवाल उठाए थे।राहुल ने कहा था कि एक तरफ़ देश के परमवीर हैं और दूसरी तरफ़ प्रधानमंत्री का घमंड और तानाशाही। क्या नए भारतमें सिर्फ़ मित्रोंकी सुनवाई होगी, देश के वीरों की नहीं?


कांग्रेस के सत्याग्रह के तहत पश्चिम बंगाल में पवन खेड़ा, लखनऊ में अजय माकन, मुंबई में सुप्रिया श्रीनेत और चेन्नई में गौरव गोगोई सहित कांग्रेस के 20 वरिष्ठ नेताओं और प्रवक्ताओं ने कई शहरों में कमान संभाली और सम्मेलनों को संबोधित किया गया. इससे पहले 'अग्निपथ की बात, युवाओं के साथ विश्वासघात' शीर्षक नाम से संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया गया था.

Latest News

Featured

Around The Web