प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष श्रुति चौधरी का हुआ भिवानी में भव्य स्वागत, कहा "अब दिखेगा कांग्रेस का दम"

श्रुति चौधरी कहा किनगर निकाय के चुनावों में कांग्रेस मजबूती से लड़ेगी और चुनावी नतीजों में कांग्रेस का दमखम दिखाई देगा।
 | 
श्रुति
पूर्व सांसद ने कहा कि आज के दिन भी कांग्रेस मजबूत है। कांग्रेस के 31 विधायक हैं, जबकि भाजपा के 40 हैं। उन्होंने दावा किया कि अगला विधानसभा चुनाव कांग्रेस जीतेगी और सरकार बनाएगी।

भिवानी: हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी की नवनिर्वाचित कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व सांसद श्रुति चौधरी का भिवानी में ग्रामीण व शहरवासियों ने भव्य स्वागत किया गया। प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष बनने के बाद भिवानी में पहला दौरा था। रोड़ शो के दौरान इस क़दर भीड़ उमड़ी की नेशनल हाईवे और शहर के सर्कुलर रोड़ पर कई बार ट्रैफिक जाम की नौबत आ गई। करीब 16 किलोमीटर के रोड शो के दौरान लगभग 40 जगह काफिला रोककर नवनियुक्त कार्यकारी अध्यक्ष का फूल माला और बुके भेंट कर स्वागत किया।

स्थानीय निकाय के चुनावों में दिखेगा कांग्रेस का दम: श्रुति चौधरी

भारी भीड़ व कार्यकर्ताओं में उत्साह देखकर श्रुति चौधरी भी जोश में दिखी। जनता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अब दिखेगा कांग्रेस का दम। उन्होंने आगे कहा कि नगर निकाय के चुनावों में कांग्रेस मजबूती से लड़ेगी और चुनावी नतीजों में कांग्रेस का दमखम दिखाई देगा।

रोड शो के दौरान मीडिया को संबोधित करते हुए श्रुति चौधरी ने कहा कि आप खुद देख लीजिए जनसैलाब को। यह भीड़ कांग्रेस की मजबूती को दर्शाता है।
लोगों में कांग्रेस को लेकर उत्साह है। स्थानीय निकाय चुनाव कांग्रेस मजबूती से लड़ेगी। उम्मीदवारों का चयन आज-कल में हो जाएगा। 

एक सवाल के जवाब में पूर्व सांसद ने कहा कि आज के दिन भी कांग्रेस मजबूत है। कांग्रेस के 31 विधायक हैं, जबकि भाजपा के 40 हैं। उन्होंने दावा किया कि अगला विधानसभा चुनाव कांग्रेस जीतेगी और सरकार बनाएगी।

भाजपा सरकार पर जमकर बरसी।

उन्होंने भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व मुख्यमंत्री विकास की बात करते थे कहां है धरातल पर विकास। उन्होंने आगे कहा कि पूरा हरियाणा बिजली संकट से जूझ रहा है। न पानी है और न अस्पताल, स्कूलों में मूलभूत सुविधाएं तक नही हैं। उन्होंने कहा कि बढ़ती महंगाई, भ्रष्टाचार और बेरोजगारी का जवाब जनता स्थानीय निकाय चुनावों में बीजेपी-जेजेपी की गठबंधन सरकार को देगी। उन्होंने कहा कि इस इलाके को हम एनसीआर में लेकर आए थे, लेकिन इन लोगों ने इलाके को एनसीआर से बाहर कर दिया। पूर्व सीएम ओम प्रकाश चौटाला को सजा के बारे में पूछे प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि वे बुजुर्ग हैं। फिर भी कोर्ट का फैसला मानना होगा।

Latest News

Featured

Around The Web