Mirabai Chanu CWG 2022: गोल्डन गर्ल चानू ने भारत को दिलाया पहला गोल्ड मेडल, नए रिकॉर्ड के साथ जीतीं मीराबाई

Mirabai Chanu CWG 2022: भारत की गोल्डन गर्ल मीराबाई चानू ने शानदार प्रदर्शन करते हुए कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में नए रिकॉर्ड के साथ देश को पहला गोल्ड मेडल दिला दिया।

 | 
mirabai chanu
मीराबाई चानू ने जीता गोल्ड मेडल। चानू में CWG 2022 में भारत को दिलाया पहला गोल्ड। चानू ने 201 किलो वजन उठाकर हासिल की स्वर्णिम सफलता।

Mirabai Chanu CWG 2022: मीराबाई चानू ने कॉमनवेल्थ 2022 में भारत को पहला गोल्ड मेडल दिला दिया। उन्होंने वेटलिफ्टिंग के 49 किलोग्राम महिला वर्ग में गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाकर एक बार फिर से इतिहास को दोहरा दिया। डिफेंडिंग चैंपियन चानू ने बर्मिंघम गेम्स में गेम्स रिकॉर्ड के साथ कुल 201 किलो वजन उठाकर स्वर्ण पदक को अपने नाम किया। मणिपुरी स्टार एथलीट ने अपने शानदार प्रदर्शन से अपने तमाम प्रतिद्वन्दियों को काफी पीछे छोड़कर सोने के तमगे को अपने नाम किया। उन्होंने सिल्वर मेडल जीतने वाली एथलीट से 29 किलो ज्यादा वजन उठाया।

Image


इंडियन गोल्डन गर्ल चानू कॉमनवेल्थ गेम्स में अपने मुकाबले के शुरू होने से काफी पहले से फेवरेट मानी जा रही थीं। उन्होंने प्रदर्शन भी उम्मीद के मुताबिक, या कहें तो उम्मीद से बेहतर किया। स्नैच राउंड के बाद भारत की स्टार वेटलिफ्टर मीराबाई चानू पहले नंबर पर रहीं। उन्होंने इस राउंड में अपने दूसरे प्रयास में 88 किलो वजन उठाया। खास बात ये कि उन्होंने इतना वजन उठाकर नया कॉमनवेल्थ और नया गेम्स रिकॉर्ड भी बना दिया। इससे पहले गोल्ड कोस्ट में हुए 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स में भी उन्होंने स्नैच में 86 किलो वजन उठाकर गेम्स रिकॉर्ड बनाया था। बर्मिंघम में, उनके बाद दूसरे स्थान पर रही मॉरीसस की वेटलिफ्टर ने उनसे 12 किलो कम यानी 76 किलो वजन उठाया। क्लीन एंड जर्क में चानू ने अपने दूसरे प्रयास में अपना बेस्ट देते हुए 113 किलो वजन उठाया।

Image

गोल्ड कोस्ट में 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में, मीराबाई चानू ने शानदार प्रदर्शन के साथ भारत का पहला स्वर्ण पदक जीता था। बर्मिंघम में चार साल बाद, वह अपनी तमाम प्रतियोगियों से पहले से ही मीलों आगे थीं। प्रतियोगिता में हिस्सा लेने से पहले से चानू 49 किलो वर्ग में अपने बाद आने वाली एथलीट से वजन उठाने के मामले में 25 किलो बेहतर थीं। यही वजह है कि उन्हें तमाम फैंस और एक्सपर्ट गोल्ड मेडल की सबसे मजबूत दावेदार मान रहे थे।  

Image

मॉरीशस की रानाइवोसोवा ने 172 किलो उठाकर सिल्वर मेडल जीता। वह 172 किलो वजन उठाकर दूसरे स्थान पर रहीं। वहीं कनाडा की हेना कमिंस्की ने 171 किलो वजन के साथ ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया।

Image

Latest News

Featured

Around The Web