असम बाढ़- नदी में समाया दो मंजिला पुलिस स्टेशन, ताश के पत्तों की तरह ढही इमारत

देश के पूर्वोत्तर राज्य में बाढ़ और भूस्खलन से कई लोगों की मौत के साथ ही कई इमारतों को भी नुकसान हुआ है.
 | 
असम
असम में बाढ़ के कारण नलबाड़ी जिले का भंगनामारी थाना पूरी तरह तबाह हो गया है. एक वीडियो सामने आया है, जिसमें पुलिस स्टेशन को नदी के पानी में समाते देखा जा रहा है. जानकारी अनुसार ये पुलिस स्टेशन नलबाड़ी जिले का है.

नई दिल्ली - असम (Assam) में बाढ़ (Flood) से त्राहिमाम मचा है. देश के पूर्वोत्तर राज्य में बीते दिनों से लगातार हो रही भारी बारिश (Heavy Rain), बाढ़ और भूस्खलन (Landslide) से कई लोगों की मौत हो गई है और 21 लाख से ज्यादा प्रभावित हुए हैं. वहीं असम में एक पुलिस स्टेशन (Bhangnamari Police Station) बाढ़ के कारण ताश के पत्तों की तरह ढहता नजर आया है.

असम की बाढ़ ने भीषण तबाही मचा रही है. बाढ़ के कारण कई इमारतों को भी नुकसान हुआ है. हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आया है. जिसमें एक पुलिस स्टेशन को नदी में डूबते देखा गया है. जानकारी मिल रही है कि बाढ़ के पानी में समाने वाला यह पुलिस स्टेशन नलबाड़ी जिले का है. नदी के तेज बहाव से भंगनामारी थाना पूरी तरह तबाह हो गया.

असम के ज्यादातर जिलों में आई बाढ़ के कई वीडियो देखने को मिल जाएंगे. जानकारी अनुसार उफान पर बह रही ब्रह्मपुत्र नदी के तट के लगातार हो रहे कटाव के कारण दो मंजिला पुलिस स्टेशन जलमग्न होने के बाद बाढ़ में समा गया. जिसका वीडियो ग्रामीणों ने अपने मोबाइल पर रिकॉर्ड कर लिया. हालांकि इमारत को पहले से खाली करवा लिया गया था.

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार हादसे में किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है. फिलहाल इस बीच मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने राहत भरी खबर देते हुए कहा है कि ब्रह्मपुत्र नदी के पास क्षेत्रों में बाढ़ का पानी कम होना शुरू हो गया है. हालांकि असम के कछार और उसके पड़ोसी करीमगंज और हैलाकांडी जिलों में बाढ़ की स्थिति गंभीर बनी हुई है.

बता दें कि, पड़ोसी मुल्क भूटान से असम की नदियों में बड़ी मात्र में बाढ़ का पानी आ रहा है. जिसके चलते असम की नदियों में भीषण बाढ़ आई है. असम के 28 जिलों में 21 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ प्रभावित बताए जा रहे हैं. कछार जिले के सिलचर शहर जैसे कई इलाके अभी भी जलमग्न हैं. वहीं असम में इस साल अप्रैल से अब तक बाढ़ और भूस्खलन में 139 लोगों की मौत हो चुकी है.

Latest News

Featured

Around The Web