प्रयागराज हिंसा के मुख्य आरोपी के घर पर चला बुलडोजर, रात को मिला था नोटिस

इससे पहले शनिवार रात को नोटिस चिपकाया गया था
 | 
UP BULLDOZER
नोटिस में ये भी बताया गया था कि 10 मई, 2022 को इस मामले में कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया था जिसको लेकर सुनवाई 24 मई, 2022 को होनी थी। लेकिन सुनवाई के दौरान जावेद की तरफ से कोई मौजूद नहीं हुआ। इसके बाद पीडीए ने 11 जून को रात नोटिस चिपका दिया।

प्रयागराज: बीते 10 जून को जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा को लेकर यूपी सरकार एक्शन के मोड में आ गई है। रविवार दोपहर को प्रयागराज में हुई हिंसा के कथित मास्टरमाइंड जावेद पंप के घर पर आज बुल्डोजर(Bulldozer) चलाया गया।

इससे पहले प्रयागराज डेवलपमेंट अथॉरिटी(Paryagraj Development Authority) यानी पीडीए ने जावेद पंप(Javed Pump) के घर रात को नोटिस चिपकाया था। नोटिस में घर को खाली करने का आदेश दिए गए थे। पीडीए ने नोटिस में घर पर बुलडोजर चलाने का समय 11 बजे तय किया था। नोटिस में घर मे रहने वालों को सामान हटाने को भी कहा गया था।

हालांकि नोटिस में बताया गया था कि घर के ग्राउंड फ्लोर और पहली मंजिल पर 25×60 फीट का अवैध निर्माण है। नोटिस में ये भी बताया गया था कि 10 मई, 2022 को इस मामले में कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया था जिसको लेकर सुनवाई 24 मई, 2022 को होनी थी। लेकिन सुनवाई के दौरान जावेद की तरफ से कोई मौजूद नहीं हुआ। इसके बाद पीडीए ने 11 जून को रात नोटिस चिपका दिया।

यूपी के प्रयागराज में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद नूपुर शर्मा(Nupur Sharma) की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन किया गया जोकि बाद में हिंसक हो गया था। जिसके बाद प्रयागराज के अटाला इलाके में हुई हिंसा के मुख्य आरोपी जावेद पंप को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। प्रयागराज पुलिस के बाद प्रयागराज डेवलपमेंट ऑथोरिटी यानी पीडीए भी एक्शन के मोड में आ गई है।

पीडीए ने जावेद पंप के घर पर नोटिस चिपकाकर उसे खाली करने के लिए कहा था। पीडीए ने नोटिस में आदेश दिया था कि आज यानी 12 जून को 11 बजे तक घर में रहने वाले सभी लोग अपना सामान हटा लें ताकि पीडीए अपनी कार्रवाई कर सके। आज क़रीब 11 बजे पीडीए व प्रशासनिक अधिकारियों ने भारी पुलिसबल के साथ आकर जावेद पंप के घर को तोड़ दिया है।

Latest News

Featured

Around The Web