अन्नाद्रमुक मुख्यालय के बाहर झड़प, पलानीस्वामी और पन्नीरसेलवम के समर्थक आपस में भिड़े

पलानीस्वामी और पन्नीरसेलवम के समर्थक पार्टी दफ्तर के बाहर एक दूसरे पर पत्थरबाजी करते नजर आए.
 | 
चेन्नई
चेन्नई में अन्नाद्रमुक मुख्यालय के बाहर संदिग्ध अन्नाद्रमुक कार्यकर्ताओं के दो समूह आपस में भिड़ गए. कुछ लोगों के घायल होने की सूचना है. इस दौरान कुछ लोगों को जबरन पार्टी कार्यालय के दरवाजे तोड़कर घुसते देखा गया.

चेन्नई - AIADMK मुख्यालय के बाहर पलानीस्वामी और पन्नीरसेलवम के समर्थक एक दूसरे पर पत्थरबाजी करते नजर आए. रायपेट्टा अववई षणमुगम रोड पर धारा 144 लगा दी गई है. मद्रास उच्च न्यायालय के फैसले से पहले दोनों समूह आपस में भिड़ गए. कुछ लोगों के घायल होने की सूचना है. वहीं कुछ लोगों को जबरन पार्टी कार्यालय के दरवाजे तोड़कर घुसते देखा गया.

वहीं मद्रास उच्च न्यायालय ने सोमवार को तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और अन्नाद्रमुक नेता ओ पनीरसेल्वम द्वारा दायर याचिका को खारिज कर दिया, जिसमें पार्टी की आज होने वाली आम परिषद की बैठक को रोकने की मांग की गई थी. इस बीच जनरल काउंसिल की बैठक जारी है जिसमें पलानीस्वामी को पार्टी का महासचिव चुना गया है.

AIADMK जनरल काउंसिल की बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए. काउंसिल ने पार्टी के दोहरे नेतृत्व को खत्म करने और पार्टी के लिए उप महासचिव पद सृजित करने का प्रस्ताव पारित किया. आम परिषद की बैठक में पेरियार, एमजी रामचंद्रन (एमजीआर) और जे जयललिता के लिए भारत रत्न की मांग का प्रस्ताव भी पास किया गया.

AIADMK ने समन्वयक और संयुक्त समन्वयक का पद समाप्त किया गया. महासचिव पद के सृजन का मार्ग प्रशस्त करने के लिए दोहरे नेतृत्व को भी समाप्त किया गया. वहीं बैठक में महासचिव पद को फिर से स्थापित करने और पार्टी के प्राथमिक सदस्यों द्वारा पद के लिए एक व्यक्ति का चुनाव सुनिश्चित करने के लिए प्रस्ताव पारित किया गया. चुनाव 4 महीने बाद होगा.

Latest News

Featured

Around The Web