अग्निपथ का देशभर में विरोध, बिहार में बीजेपी के 10 नेताओं को दी गई Y श्रेणी की सुरक्षा

बिहार में बीजेपी के 10 नेताओं को Y श्रेणी की सुरक्षा दी गई है। अग्निपथ योजना को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन के दौरान बीजेपी नेताओं के घरों पर हमला हुआ है।
 | 
बिहार
बिहार में अग्निपथ को लेकर पिछले चार दिनों से प्रदर्शन जारी है। बीजेपी नेताओं को निशाना बनाया जा रहा है। बिहार बीजेपी के अध्यक्ष संजय जायसवाल के आवास पर हमला और आगजनी की गई है। वहीं उप मुख्यमंत्री रेणु देवी समेत चार विधायकों के आवास को निशाना बनाया गया है।

बिहार : केद्र सरकार की सेना में भर्ती की नई योजना अग्निपथ का देशभर में विरोध हो रहा है। बिहार में 'अग्निपथ' को लेकर पिछले चार दिनों से उपद्रव जारी है। बीजेपी नेताओं को निशाना बनाया जा रहा है। जिसके चलते 10 नेताओं की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इनमें कई विधायक और सांसद भी हैं। इन सभी को वाई श्रेणी की सुरक्षा देने का फैसला किया गया है। 

बिहार में बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल के आवास पर हमला और आगजनी की गई है। इसके साथ ही उप मुख्यमंत्री रेणु देवी समेत चार विधायकों के आवास को निशाना बनाया गया। जिसके बाद से बीजेपी नेताओं का गुस्सा नीतीश सरकार पर निकल रहा है। नेता अब खुलकर कह रहे हैं कि उन्हें बिहार पुलिस पर भरोसा नहीं है। क्योंकि कहीं लाठीचार्ज नहीं किया गया। कहीं भी आंसू गैस नहीं चलाए गए। पुलिस-प्रशासन एक्टिव नहीं है।

जिसके बाद बीजेपी नेताओं को वाई श्रेणी की सुरक्षा देने का फैसला लिया गया है। जिनमें डिप्टी सीएम सहित भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल, दरभंगा से विधायक संजय सरावगी और दीघा से विधायक संजीव चौरसिया शामिल हैं। इसके साथ ही एमएलसी अशोक अग्रवाल, दिलीप जायसवाल और सांसद गोपाल जी ठाकुर को भी वाई श्रेणी की सुरक्षा दी गई है।

प्रदर्शन को लेकर एडीजी लॉ एंड ऑर्डर संजय सिंह ने कहा है कि उपद्रव करने वालों ने खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। ऐसे लोगों को ट्रेस किया जा रहा है जो इसमें शामिल हैं। अब तक दो दर्जन से अधिक FIR दर्ज की जा चुकी है। सैकड़ों उपद्रवियों की पहचान कर गिरफ्तारी भी की जा रही है। सुरक्षा मिलने के बाद बीजेपी विधायक हरिभूषण ठाकुर ने बताया कि हमें सीआरपीएफ की सुरक्षा दी गई है। कुल 12 जवान सुरक्षा में तैनात किये गये हैं।

Latest News

Featured

Around The Web