राजनाथ सिंह बोले : अब पूरी रकम लाभार्थी को मिलती है, पहले एक रुपये में से 15 पैसे ही मिलते थे

रक्षा मंत्री ने किया जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय 'पंच कमल' का उद्घाटन 
 | 
 रक्षा मंत्री ने किया जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय 'पंच कमल' का उद्घाटन 
राजनाथ सिंह ने कहा 2022-23 के अंत तक सरकार की कोशिश है कि कोई भी कच्चा घर न रहे।  सभी को पक्के मकान बनाकर देने के प्रयास हो रहे हैं। सेना के सामान की 310 आइटम्स की सूची तैयार की गई है

पंचकूला- केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पंचकूला में  भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय 'पंच कमल' का उद्घाटन करने पहुंचे थे। इस दौरान रक्षा मंत्री ने अपने संबोधन में सीएम मनोहर लाल, स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज और प्रदेशाध्यक्ष ओपी धनखड़ की प्रशंसा की। वहीं , बोले-  भाजपा ने राजनीति को साफ करने की कोशिश की।  भाजपा ने जब सत्ता संभाली तो देश के सामने राजनीति में विश्वास का संकट था। अभी भ्रष्टाचार पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है। शीर्ष पर जब तक भ्रष्टाचार खत्म नहीं होगा, तब तक निचले स्तर पर भ्रष्टाचार खत्म नहीं कर सकते हैं। वर्ना पहले आए दिन कोई न कोई घोटाला सामने आ रहा था। 

 रक्षा मंत्री ने किया जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय 'पंच कमल' का उद्घाटन 

अब ऐसा नहीं है। केंद्र से जो रकम भेजी जाती हैं, लाभार्थी के खाते में उतनी ही मिलती है। दिवंगत पीएम राजीव गांधी ने माना था केंद्र से एक रुपया भेजते हैं तो केवल 15 पैसे लाभार्थी के पास पहुंचते हैं। शेष 85 पैसे भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाते हैं। राजनाथ सिंह ने कहा 2022-23 के अंत तक सरकार की कोशिश है कि कोई भी कच्चा घर न रहे।  सभी को पक्के मकान बनाकर देने के प्रयास हो रहे हैं। सेना के सामान की 310 आइटम्स की सूची तैयार की गई है।भारत सेना के लिए 900 करोड़ रुपए का सामान दूसरे देशों से आयात करता आ रहा था परंतु अब भारत 13000 करोड़ रुपए का सामान दूसरे देशों को निर्यात कर रहा है। 

 रक्षा मंत्री ने किया जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय 'पंच कमल' का उद्घाटन 


मैं भी दावा नहीं करता कि भ्रष्टाचार खत्म हो गया, परंतु हमारे पीएम और सीएम पर कोई भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा सकता।इसी प्रकार से मनोहर लाल पर कोई माई का लाल अंगुली नहीं उठा सकता, इनके दामन पर भ्रष्टाचार का कोई दाग नहीं लगा। कांग्रेस के लोग कहते थे कि भ्रष्टाचार पर अंकुश नहीं लगाया जा सकता। मैने फैसला किया कि हरियाणा में यह पगड़ी बांधी गई है, यह हरियाणा के आन-बान की शान है, कुछ भी हो जाए, मैं पगड़ी सिर से नहीं उतारूंगा। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि जब मेरे सिर पर पगड़ी बांधी तो शुभचिंतकों ने कहा कि गर्मी बहुत है। सीएम मनोहर लाल ने अनिल विज को सूझबूझ से महकमे दिए हैं, क्योंकि कानून व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त रखने के लिए आदमी का स्वास्थ्य होना जरूरी है।

हरियाणा में भाजपा के लिए एक समय काम करना बड़ा कठिन था। दूसरी पार्टियां सरकार बनाने के लिए राजनीति करती है। हरियाणा बहादुर जवानों की धरती है। यह खिलाड़ियों की भी धरती है।  डॉ मंगल सेन ने भाजपा को खड़ा करने का काम किया है। वे 7 बार विधायक रहे। उन्हें दूसरी पार्टियां भी सम्मान देती थी।सबसे ज्यादा मेडल हरियाणा के लोगों के होते हैं। भाजपा का कार्यकर्ता गांव में जाता था तो जलालत झेलनी पड़ती थी।

रक्षा मंत्री ने कहा कि मैं पूर्व पीएम राजीव गांधी पर कोई सवालिया निशान नहीं खड़ा करना चाहता। राजीव गांधी ने लाचारी प्रकट की थी कि दिल्ली से 100 पैसे भेजते थे, परंतु नीचे पहुंचते- पहुंचते 15 पैसे ही रह जाते हैं। 85 पैसा भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाता है। परंतु हमारे पीएम नरेंद्र मोदी ने इस व्यवस्था को खत्म कर दिया। 2024 का चुनाव आ रहा है। हमें संकल्प लेकर चलना है, हमें पिछली बार से अधिक सीटें जीतने का संकल्प लेकर चलना है।

हरियाणा में भाजपा के लिए एक समय काम करना बड़ा कठिन था। दूसरी पार्टियां सरकार बनाने के लिए राजनीति करती है। हरियाणा बहादुर जवानों की धरती है। यह खिलाड़ियों की भी धरती है।  डॉ मंगल सेन ने भाजपा को खड़ा करने का काम किया है। वे 7 बार विधायक रहे। उन्हें दूसरी पार्टियां भी सम्मान देती थी।सबसे ज्यादा मेडल हरियाणा के लोगों के होते हैं। भाजपा का कार्यकर्ता गांव में जाता था तो जलालत झेलनी पड़ती थी।

हरियाणा में भाजपा के लिए एक समय काम करना बड़ा कठिन था। दूसरी पार्टियां सरकार बनाने के लिए राजनीति करती है। हरियाणा बहादुर जवानों की धरती है। यह खिलाड़ियों की भी धरती है।  डॉ मंगल सेन ने भाजपा को खड़ा करने का काम किया है। वे 7 बार विधायक रहे। उन्हें दूसरी पार्टियां भी सम्मान देती थी।सबसे ज्यादा मेडल हरियाणा के लोगों के होते हैं। भाजपा का कार्यकर्ता गांव में जाता था तो जलालत झेलनी पड़ती थी।


 

Latest News

Featured

Around The Web